Vernier Caliper kya hai in hindi PDF – वर्नियर कैलिपर्स क्या है

vernier-calipers-in-hindi

Vernier Caliper kya hai in hindi – वर्नियर कैलिपर्स क्या है

वर्नियर कैलिपर्स के मुख्य भाग

Main Scale – मेन स्केल

यह एक वेनेडियम स्टील की स्टील रूल के समान चौड़ी परन्तु उससे काफी मोटी पट्टी होती है , जिस पर एक साइड में मि.मी. तथा दूसरी साइड में इंचों के निशान अंकित होते हैं । मि.मी. तथा इंचों के दसवें भागों को भी आगे कई भागों में बाँटा गया होता है , जैसा कि चित्र में दर्शाया गया है ।

इसके अगले भाग में एक फिक्स्ड जबड़ा तथा आन्तरिक माप के लिए फिक्स्ड निब ( fixed nib ) लगी होती है । मेन स्केल के पीछे की साइड में एक ग्रूव ( groove ) होता है , जिसमें डैप्थ मैजरिंग स्ट्रिप ( depth measuring strip ) स्लाइड ( slide ) करती है । वर्नियर कैलीपर्स के बाकी सभी भाग मेन स्केल के ऊपर ही स्लाइड करने के लिए फिट ( fit ) किए गए होते हैं ।

Vernier Scale – वर्नियर स्केल

वर्नियर कैलीपर्स का मुख्य भाग होता है । इसको मेन स्केल पर स्लाइड करने के लिए बनाया गया है । इसकी दोनों साइडों में कमानी स्प्रिंग दिया होता है , जो इसको सदा एक ही अवस्था ( position ) में रखता है । इसके बीच में एक खिड़की ( window ) कटी होती है , जिस पर मेन स्केल के निश्चित भागों को एक से अधिक भागों में बाँटा गया होता है । इसको वर्नियर के सिद्धान्त में स्पष्ट किया गया है । वर्नियर स्केल के साथ में मेन स्केल के समान ही चल जबड़ा ( movable jaw ) तथा चल निब ( movable nib ) लगी होती है । इसको किसी स्थान पर स्थिर करने के लिए इसके ऊपरी भाग में एक लॉकिंग स्क्रू लगा होता है । यह स्केल एक फाइन एडजस्टमेन्ट यूनिट से मिला होता है ।

Fine Adjustment Unit – फाइन एडजस्टमेन्ट यूनिट

वर्नियर स्केल को थोड़ा – सा आगे – पीछे लेने के लिए इस यूनिट का प्रयोग किया जाता है । इस यूनिट के ऊपर लगे लॉकिंग स्क्रू से इसे स्थिर कर दिया जाता है । अब इसके नीचे लगे नट को घुमाने पर उसमें लगे स्क्रू के द्वारा वर्नियर स्केल आगे – पीछे सरकता है । इसका प्रयोग वर्नियर स्केल के फाइन एडजस्टमेन्ट के लिए किया जाता है ।

Depth Measuring Strip – डैप्थ मेजरिंग स्ट्रिप

वर्नियर स्केल के साथ में एक बारीक स्ट्रिप लगी होती है , जो मेन स्केल में पीछे की ओर बने ग्रूव ( groove ) में स्लाइड करती है । यह ग्रूव से बाहर न आए इसके लिए मेन स्केल के आखिरी सिरे पर ग्रूव के ऊपर एक पत्ती लगी होती है । जव वर्नियर स्केल के जबड़े मिले होते हैं तो मेन स्केल पर शून्य , वर्नियर स्केल के शून्य के सामने होता है ।

ऐसे समय पर डैप्थ स्ट्रिप भी मेन स्केल के आखिरी सिरे से मिल रही होती है । कुछ कैलीपर्स में आन्तरिक माप लेने के लिए अलग से जबड़े नहीं होते बल्कि बाहरी माप लेने वाले जबड़ों को एक निश्चित मोटाई में बाहर से गोल किया होता है । यह मोटाई साधारणत : 10 मिमी होती है । इस माप को कैलीपर्स द्वारा ली गई आन्तरिक माप में जोड़ दिया जाता है ।


सावधानियां

  1. वर्नियर कैलीपर्स एक सूक्ष्ममापी उपकरण है । अत : इसे सावधानी से रखा जाए , नीचे गिरने या अन्य हैण्ड टूल्स की चोट लगने से बचाया जाना चाहिए ।
  2. मापने के समय बहुत अधिक दबाव नहीं डालना चाहिए ।
  3. मापने से पहले शून्य त्रुटि चैक कर लेनी चाहिए ।
  4. फाइन एडजस्टिंग स्क्रू का प्रयोग करते समय अधिक बल नहीं लगाना चाहिए ।
  5. इसके जबड़े जॉब की सतह पर कम – से – कम रगड़ खाने चाहिए , क्योंकि अधिक रगड़ खाने से वे जल्दी घिस सकते हैं ।
  6. घूमते हुए जॉब पर इससे कभी माप नहीं लेनी चाहिए ।

Share